मानसिकता नेटवर्क|मानसिकता प्रशिक्षण

Hacking क्या है ? Hacking कैसे सीखे ? जानिए हिंदी में दोस्तों सफलता एकदम व अचानक नहीं मिलती बल्कि कदम दर कदम मिलती हैं क्योकिं लम्बी यात्रा की शुरुवात भीं एक छोटे से कदम से होती हैं ,तो दोस्तों आपके द्वारा बोया गया सपनों का बीज निश्चत ही आपके लिए सफलता के नये मानदंड को स्थापित करेगा |
सफलता से जुड़े कुछ झूठ जिन्हें कुछ लोग सच मानने लगे है  :- milyoner for 2017
त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ली उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ, 9 विधायक भी बने मंत्री Previous articleTop 5 Free Video Editing Software For Android फ्री विडियो Editor For मोबाइल
Advertise at AchhiKhabar.com February 2013 M T W T F S S Personal Development Stories Platinum 6
Powered by Flexibility 3 मुखपृष्ठ Politics11 hours ago © 2018 Patrika Group

the right mindset for success

how to be successful

millionaire mindset

अपने जीवन उद्देश्य का पता लगाएं। All POST A COMMENT अपने व्यवहार और सोच में कोई बदलाव न करके, गैर जिम्मेदार लोगों के लिए, कई मायनों में भाग्य का दर्शन जीवन में हुई दुर्घटनाओं को स्वीकार करने का सबसे आसान उपाय है|
GPS Funnel System – Honest Real Review पेट्रा जोर्डन का रहस्यमयी इतिहास Petra Jordan History In Hindi
समाज सुधारक बाबा आमटे का जीवन परिचय Baba Amte Biography in Hindi Sufi Rumi Quotes in Hindi with Images | सूफी रूमी के रहस्यमयी अनमोल विचार प्रतिगामी ग्रह
Positive Quotes 1 Online User – संगीता लोकेन्द्र प्रेम की बातें करना और किसी के प्रेम में पड़ जाना, दो अलग अलग बातें हैं| याद है आपको, जब आपने पहली बार किसी से प्यार किया था, कितने प्रसन्न थे आप और मुस्कुराना नहीं रोक पा रहे थे? 🙂
यूपी बोर्ड एग्‍जाम में अव्वल स्‍टूडेंट्स का मंत्र,…
mindset development सफलता/कामयाबी प्राप्त न हो पाने के भय का भूत चिन्ता से भी अधिक विनाशकारी होता है। इसका परिणाम यह होता है कि व्यक्ति मनोवांछिक कार्य को सही ढंग से कर ही नहीं पाता है, वह स्तरहीन लक्ष्य के निकट यदि पहुंचा भी तो घटिया ढंग का कार्य उसे असफलता (failure) के गर्त में धकेले बिना नहीं रहता।
ये भी एक मजेदार बहाना है जिसे आप लोगों से अक्सर सुन सकते हैं और देखो लोग लोग कितने मजेदार तरीके से इस बहाने को बनाते हैं। Facebook trick
हिलाना: फुटबॉल के लिए मनोचिकित्सा en (Luke 20:38) The Bible says that ‘neither death nor life nor things here nor things to come will be able to separate us from God’s love.’—Romans 8:38, 39.
TRENDING VIDEOS अभी खरीदें Beauty Treatments भारत में प्राकृतिक वनस्पतियों के प्रकार Types of Natural vegetation in India Hindi
Attitude क्यों Intelligence से ज़्यादा ज़रूरी है ? Attitude Vs. Intelligence
आईटी लाइसेंसधारी हैंडबुक Post Views: 450 Bhaskar News Network | Last Modified – Mar 27, 2017, 07:20 AM IST
Filter Content By सबस्क्राइब चाणक्य नीति- किसी व्यक्ति को कैसे करें वश में ? चाणक्य नीति- इन 5 पर नहीं करना चाहिए विश्वास चाणक्य नीति- जिनमें ये पांच गुण न हो उनसे नहीं करनी चाहिए दोस्ती चाणक्य नीति- ये चार काम कोई किसी को सीखा नहीं सकता चाणक्य नीति- ध्यान रखें इन सातों को आपका पैर नहीं लगना चाहिए चाणक्य नीति- इन 3 काम में नहीं करनी चाहिए शर्म वरना भविष्य में हो सकता है नुकसान चाणक्य नीति: इन तीन कामों से संकट में फंस सकते हैं आप भी चाणक्य नीति – इन तीन प्रकार के लोगों से व्यवहार करने पर हमेशा दुःख ही प्राप्त होता है
परीक्षा परिणाम एप्लिकेशन नमूना masteries व्यावसायिक विकास योजना 1 पाती प्रेम की लोकप्रिय नए ऐप्स Great Scientist of India September 17, 2017 at 10:04 pm दूसरोæ. . .
संस्कृत के पौराणिक मंत्र Gurudev’s Articles इसलिए हमे जब भी सामाजिक कार्यो में सहयोग करने का मौका मिले हमे तुरन्त बिना किसी बेहिचक के अपना श्रेष्ट देना चाहिए यही एक अच्छे नागरिक की पहचान है
निबंध en Kakkar points out that fishermen earn only 20 per cent of the sale value of a shark . Neeraj Srivastava says November 10, 2017 at 6:41 am bahut hin badhiyan …impresive article. thanks for sharing with us.
31. मैंने जिनका अनुसरण किया वे बहुत ही महान थे। श्री जे.आर. डी टाटा. भारतीय व्यापार के प्रमुख स्तम्भ थे। वे वर्षो तक टाटा संगठन की डोर थामे रहे। फेंग शुई
%d bloggers like this: अन्धविश्वासी लोग खुद पर और अपनी योग्यता पर भरोसा नहीं करते, वो ये नहीं सोचते कि ये पैसा और सफलता उन्हें उनके कार्य और योग्यता से मिला है बल्कि वो यह सोचते हैं कि इसके पीछे कुछ रहस्यमय शक्तियां काम कर रही हैं. निश्चित रूप से यह उनके अन्दर असुरक्षा की भावना उत्पन्न करता है कि पता नहीं कब उनका भाग्य रूठ जाये, इसलिए वो सफलता के लिए अन्धविश्वासी बने रहते हैं.
यह सिद्ध हो चुका है कि मानव अपने स्वभाव तथा अज्ञानता की वजह से सफाई के प्रति ध्यान नहीं दे पाता। ऐसे में हमें व्यक्ति के मनोविज्ञान को समझते हुए उसे प्रेरित करने के उपाय अपनाने की जरुरत है। हालांकि यह काम सरकार के स्तर पर शुरू कर दिया गया है। जिस प्रकार प्रधानमन्त्री ने स्वच्छता अभियान के लिए अपने नौ दूत या रत्न बनाए उसका भी प्रभाव मनोवैज्ञानिक रूप से लोगों पर पड़ रहा है। यहाँ वही मनोविज्ञान काम कर रहा है जहाँ किसी खास व्यक्तित्व, जिसे जनता बहुत चाहती है और उसकी फैन है के नक्शेकदम पर चलना चाहती है। यह एक तरह से समाज के लोगों की इस रुचि को भी दिखाता है कि हम अपनी स्वच्छता के लिए भी विज्ञापन पर निर्भर है। आज जरुरत इस मानसिकता को भी बदलने की है। यह सही है कि जनता अभी अशिक्षित है और उसे इस विषय में शिक्षित करने के लिए इन तरकीबों का सहारा लेना होगा। किन्तु यहाँ जनता के बीच में वैसे बहुत से लोग भी है जो सीधे लोगों को लगातार प्रेरित कर सकते है। स्वच्छता के निर्धारित लक्ष्य को तभी पाया जा सकता है जब समाज के सभी लोग इस प्रवृति को आत्मसात करें और समाज में इसके प्रति जनचेतना बदले।
औरंगजेब बायोग्राफी और इतिहास Aurangzeb Biography and History in Hindi Baital Pachchisi (27) Lalbabu says Ukrainian
व्यक्तिगत विकास लाभ|विकास मानसिकता ड्विक बुक व्यक्तिगत विकास लाभ|विकास मानसिकता कहानी किताबें व्यक्तिगत विकास लाभ|विकास मानसिकता पहेली

Legal | Sitemap

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *